साक्षी ने भेजा सील तोड़ने का निमंत्रण

हैल्लो दोस्तो आज में आपको सील तोड़ने का निमंत्रण मिला | हैल्लो दोस्तो आज में आपको एक कहानी सुना रहा हूँ जिसे पढ़कर आपका दिल खुश हो जाएगा तो बात उस समय की है जब में फेसबुक चलाता था जब मेरी दोस्ती एक साक्षी नाम की लड़की से हो गयी वो जयपुर में पीजी में रहकर कोचिंग करती थी , पहले दिन की चैटिंग में ही उसने मुझे अपना व्हाट्सअप कांटेक्ट नंबर भेज दिया |

दो तीन दिन बात करने के बाद ही हम दोनों अच्छे दोस्त बन गए,एक दिन साक्षी ने अपनी फोटो भेजी जिसे देखकर में अचंभित हो गया वो बला की खूबसूरत थी बिल्कुल बॉलीवुड की किसी हीरोइन की तरह वो प्रियंका चोपड़ा की तरह दिखाई दे रही थी |

औऱ जल्दी ही चैट करने के बाद साक्षी में अपना मोबाइल नम्बर मुझे दे दिया अब हमारी 2-3 दिन से रोज शाम को बात करना आम बात हो गयी थी , वो अपनी पढायी मे भी तेज़ थी |

एक दिन शाम को साक्षी ने मुझे काल किया कि मुझे आपकी हेल्प चाहिए लेकिन समझ नही आ रहा कि में क्या करूँ तो मैंने उसे बोला कि में आपका दोस्त हुँ मुझे आप खुलकर सब बता सकती हो
तो उसने मुझे बताया कि उसका एक बॉयफ्रेंड था दूर का कभी मिला नही रोज प्यार भरी बातें करता था और अब ब्रेकअप कर लिया इसलिए परेशान हूं मेरा मन पढ़ाई बगैरा किसी चीज़ में नही लगता हर वक़्त लड़को के बारे में सोचती रहती हूं , फिर मेने कहा कि इस उम्र में ये सब होता है

तो उसने कहा एक बात बोलूँ प्लीज़ मना मत करना पहले प्रॉमिस करो मैंने ओके बोला तो उसने बताया कि में वर्जिन हूं और तुम्हारे साथ खुलकर सेक्स करना चाहती हूँ लेकिन सिर्फ तीन चार दिन उसके बाद में केवल पढ़ाई में ध्यान दूंगी और ये सब मेरे दिमाग से निकल जायेगा…ये बात सुनते ही में खुश हो गया और मैंने बोला की बताओ कब आऊ फिर अपनी जान से मिलने उसने कहा कि आप संडे को आ जाना प्लीज़ उसके बाद हम साथ रहेंगे तीन दिन तो में शनिवार रात को जयपुर पहुंच गया और एक ओयो रूम बुक कर लिया ओयो रूम में कभी चेकिंग का झंझट नही रहता है क्योंकि वहाँ पहले ही कपल्स वेलकम लिखा रहता है |

उसके बाद संडे मॉर्निंग को ही मैंने साक्षी को अपने होटल की लोकेशन भेज दी और सुबह आठ बजे वो मेरे रूम आ गयी आते ही मैंने उसे गले मिला और उसके माथे पर एक प्यार भरा किश किया वो बहुत प्यारी लग रही थी मुझे वो बहुत खुश भी थी उसके बाद हमने नाश्ता किया और मैंने अपने हाथों से उसे खिलाया उसके बाद स्कूटी रेंट पर लेकर हम घूमने चले गए और जयपुर के कुछ मशहूर टूरिस्ट अट्रैक्शन देखे और दोपहर का भोजन करके वापिस होटल आ गए साक्षी काफी थक गई थी और आते ही मेरी गोद में लेट गयी और बोला प्लीज़ अभी कुछ मत करना अपनी सुहागरात नाईट में है मैंने बोला ओके मेरी जान वो मेरी गोद में अपना सर रख कर लेटी थी और बहुत ही क्यूट लग रही थी और में उसके बालों को सहला रहा था और मन ही मन बहुत खुश था कि इतनी प्यारी लड़की मुझे प्यार करने को मिली है |

पूछने पर उसने बताया कि उसे लाइफ में प्यार नही मिला वो बीकानेर से है और जयपुर में अपनी पढ़ाई करती है गवरमेंट जॉब के लिए और पढ़ाई से डिस्टर्ब होती हुँ चैटिंग में टाइम बर्बाद होता है तो उसकी सहेली ने ये आईडिया दिया कि इस ऐज में अंदर गर्मी बहुत बढ़ जाती है तो एक बार अच्छे से सेक्स कर लो तो माइंड फ्रेश हो जाएगा फिर मैंने आपको बुलाया है में आपसे शादी नही करूँगी लेकिन तीन दिनों तक अपनी पत्नी मानकर प्यार करो उसके बाद हम नही मिलेंगे उसके बाद मैंने उसे लिप्स पर एक प्यारा सा लम्बा सा किस किया लगभग पन्द्रह मिनट वो बहुत हैप्पी हो गयी मैंने उसे बोला कि चलो में तो अपनी जान के साथ तीन दिन में ही हैप्पी हूं ,आप अपने कैरियर पर फ़ोकस करना अच्छे से और हम हग करके दो घण्टे सो गए और हमें बहुत ही प्यारी नींद आयी मुझे ऐसा फील हो रहा था कि में जन्नत में हूँ |

उसके बाद हम उठे और साक्षी बाथरूम में नहाने चली गयी थोड़ी देर में वो नहाकर आयी खुले बालों के साथ बहुत मस्त लग रही थी और बोली जानू तुम भी नहा लो फिर मैंने बहुत मुश्किल से कंट्रोल किया और जल्दी से नहाकर बाहर आया और आते ही साक्षी के ऊपर चढ़ गया और लिप्स पर बहुत जबरदस्त किसिंग की वो भी मेरा पूरा साथ दे रही थी उसके बाद उसने मेरी शर्ट खोल दी और सीने पर किसिंग करने लगी मेने भी उसका टॉप उतार दिया और उसकी गर्दन पर किसिंग की और फिर एक हाथ से उसके बूब्स दबाने लगा और एक बूब्स को मुँह में लेकर चूसने लगा साक्षी लम्बी लम्बी सिसकारी ले रही थी उसकी सांसे बहुत तेज़ चल रही थी गोरे गोरे बूब्स एक दम टाइट हो गए थे और निप्पल्स खड़े हो गए थे में बारी बारी दोनो बूब्स को सोलह सत्रह मिनट चूसता रहा उसकी बॉडी पूरी तरह गर्म हो चुकी थी उसके बाद में उसकी नाभि पर किश करने लगा तो वो अपने कूल्हे उछाल रही थी और बोल रही थी |

जान अब नही रहा जाता कुछ करो ना डिअर फिर मैंने उसकी जींस निकाल दी उसने वाइट रंग की पैंटी पहनी थी जो कि गीली थी पूछने पर उसने बताया कि वो अपनी लाइफ की पहली किसिंग में ही पानी छोड़ चुकी थी और जब आप मेरे आम चूस रहे थे तो दूसरी बार जानू ये वक़्त यही थम जाए तो कितना अच्छा होगा ना फिर मैंने अपने दांतों से खींचकर उसकी पैंटी निकाल दी और उसकी जांघो पर चुम्बन किया तो उसने अपने दोनों पैरों के बीच मेरी गर्दन को जकड़ लिया और फिर में उसके उपर आ गया और उसे अपनी बाहों में जकड़ लिया उसने भी मुझे जकड़ लिया और जबरदस्त लिप् लॉक किसिंग की हमें ऐसा फील हो रहा था कि हमारी बॉडी एक ही है दो जिस्म एक जान वाली फीलिंग आ रही थी |

सच में फिर मैंने उसे पेट के बल लेटा दिया और उसकी कमर पर किसिंग की और काटने लगा वो मजे से आह आह कर रही थी उसके बाद वो सीधी हो गयी और कहाँ मुझसे अब सहन नही हो रहा प्लीज़ डाल दो ना तो मैंने कहा क्या डालना है तो मेरी सेक्सी साक्षी शर्मा गयी औऱ प्यार से मेरी तरफ देखने लगी उसकी झील जैसी नासिली आंखों में बिल्कुल खो गया था में और फिर वो अपने बैग से कंडोम का पैकेट निकालकर लायी और बोली सेफ्टी जरूरी है जानु तो मैंने कहा ओके मेरी जान लेकिन असली मजा बिना कंडोम के आएगा तो बोली जानू में भी पूरा मजा लेना चाहती हूं |

लेकिन डरती हु बहुत कुछ हो गया तो फिर मैंने प्यार से उसे किश किया और गले लगाया और बोला मेरे होते टेंशन ना लो बाबू में आपको टेबलेट दे दूंगा सुबह फिर उसने मेरे लंड को किश किया और बोला ठीक है. फिर तो मेरे बाबू को फूल परमिशन हैं और उसके बाद मैंने उसकी टांगों को खोल दिया और लंड को चुत की सुरंग पर सेट करके प्यार सा धक्का लगाया और मेरा तीन इंच अंदर चला गया मेरी साक्षी को आंखों में आँशु आ गए. फिर मैंने उसे किसिंग की उसने बोला कि जानू मेरी टेंशन मत लो आप अपने हिसाब से करो में ये दर्द सहन करने को तैयार हूं.

फिर थोड़ी देर में वो कमर हिलाने लगी और में हल्के हल्के प्यार से करने लगा और दो तीन मिनट में प्यार से करते हुए मैंने जोर का झटका दिया जिससे पूरा का पूरा लंड जड़ तक अंदर चला गया. साक्षी दर्द फील कर रही थी इसलिए में थोड़ा रुक गया और हम किसिंग करने लगे और फिर धीरे धीरे मैंने रफ्तार बढ़ा दी साक्षी इस बीच दो बार पानी छोड़ चुकी थी काफी खून चददर पर लग चुका था और फिर तूफानी चुदाई के बाद मैंने बोला की मेरा निकलने वाला है तो साक्षी ने बोला कि आने दो जान में अंदर फील करना चाहती हूं और फिर मैंने दो तीन तेज़ झटको के साथ अंदर सफेद पानी की धारा बहा दी और फिर बाहर निकाला तो साक्षी की प्यारी चुत से सफेद वीर्य और खून मिक्स होकर बह रहा था.

फिर हमने चददर को धोकर सूखा दिया और साथ नहाये और एक दूसरे को साफ किया और मेरा नहाते टाइम तनकर खड़ा हो गया तो साक्षी हंसने लगी और लंड पर किस करके बोली जानू अभी नही बहुत दर्द हो रहा है बाकी सब रात को फिर हमने बाहर खाने का प्लान किया और साक्षी को एक पेनकिलर दे दी तकि दर्द कम हो जाये. फिर नहाकर बाहर आकर हमने कपडे पहने तो साक्षी मेरे ऊपर लेट गयी मेरे बालो को सहलाने लगी और किस करते हुए बोलने लगी….

थैंक यू डिअर. आपने ईतनी रिस्पेक्ट और प्यार से मेरी चुदाई की इतना ख्याल रखते हुए में तुम्हारा ये कर्ज़ कभी नही चुका पाऊंगी एक लड़की की रिस्पेक्ट कैसे करे वो सबको आपसे सीखना चाहिए
आपको मेरी ये कहानी कैसी लगी पढ़कर रिप्लाई जरूर करे. पाठकों की डिमांड पर ही अगले तीन दिनों की कहानी भेजूंगा.  मेरी मेल आईडी है [email protected]
आपके मेल की दिल की गहराइयों से प्रतीक्षा रहेगी धन्यवाद.